पेट दर्द से बचाव में मदद करेंगे ये सेल्फ केयर टिप्स

 

पेट दर्द:DocTubeBlog

पेट दर्द एक कॉमन समस्या है, जिसके कई कारण हो सकते हैं। पेट में दर्द अगर ज्यादा हो, तो व्यक्ति न ठीक से खा पाता है और न ही एक जगह पर शांति से बैठ पाता है। सबसे ज्यादा परेशानी तब होती है, जब व्यक्ति के पेट दर्द का कारण कोई गंभीर बीमारी हो। कहने का मतलब यह है कि अगर सामान्य कारणों से पेट में दर्द हो, तो कुछ दवाईयां लेने से यह दर्द ठीक हो जाता है।  वहीं, अगर पेट दर्द का कारण कोई गंभीर बीमारी हो, तो फिर डॉक्टर की देखरेख में ही इसका इलाज करना संभव होता है।


जानें पेट दर्द का सामान्य कारण (Ref)

  1. कब्ज होने पर व्यक्ति को अक्सर पेट दर्द की शिकायत रहती है।
  2. पेट में फ्लू हो जाये तो व्यक्ति को तेज दर्द का एहसास होता है।
  3. अपच पेट दर्द का एक मुख्य कारण है। 
  4. दूषित भोजन करने से फूड पॉइजनिंग हो जाता है। इसमें व्यक्ति को तेज पेट दर्द का सामना करना पड़ता है।

ये पेट दर्द के सामान्य कारण हैं लेकिन इसके अलावा कुछ गंभीर कारण भी हैं, जो इस तकलीफ को पैदा करते हैं-


पेट दर्द के गंभीर कारण  (Ref)

हर्निया, अल्सर, रिफ्लक्स डिजीज, अपेंडिसाइटिस, किडनी स्टोन, यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन व अन्य कई बीमारियां पेट दर्द का कारण बन सकती हैं। महिलाओं में ओवेरियन कैंसर, एडिनोमायोसिस, ओवेरियन सिस्ट या फिर एक्टोपिक प्रेगनेंसी होने पर भी पेट में दर्द होता है। ये ऐसी बीमारियां या समस्याएं हैं, जिसमें डॉक्टर के कहे अनुसार ही इलाज कराना चाहिये। 


हार्ट अटैक में भी हो सकता है पेट दर्द! (Ref

कभी-कभी फेफड़ों या हार्ट में तकलीफ होने से भी व्यक्ति को पेट दर्द हो सकता है। उदाहरण के तौर पर हार्ट अटैक में पेट के उपरी हिस्से में दर्द जैसे लक्षण नजर आते हैं।


पेट दर्द के सामान्य कारणों से बचने के लिए फॉलो करें ये सेल्फ केयर टिप्स

व्यक्ति अगर अपने रोजाना की आदतों में थोड़ा सा सुधार कर ले, तो पेट दर्द से बचाव संभव है। बस इसके लिए कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है, जैसे- 


1. खानपान

सबसे पहले तो सही समय पर खाना खाएं और हमेशा छोटी-छोटी मील लेने की कोशिश करें। उन खाद्य सामग्रियों का सेवन अधिक करें, जिनमें फाइबर की मात्रा ज्यादा हो, जैसे- फल, हरी सब्जियां, होल ग्रेन्स ब्रेड्स आदि। अतिरिक्त शुगर, फैट व नमक के सेवन से बचें।  (Ref)


2. फ्लूइड

शरीर में फ्लूइड संतुलित मात्रा में मौजूद होना चाहिये। व्यस्कों को हर रोज कम से कम डेढ़ लीटर फ्लूइड लेना ही चाहिये। पानी की कमी पेट दर्द के साथ-साथ और भी कई समस्याओं का कारण बन सकती है। इसीलिए, पानी का सेवन ज्यादा मात्रा में करें। इससे गैस और अपच जैसी समस्याओं से राहत मिलती है। (Ref)


3. खाने के बाद रखें ध्यान

खाना खाने के बाद कम से कम आधे घंटे तक लेटे नहीं। सोने के 2 घंटे पहले ही खाना खा लें। (Ref) 


4. शराब का सेवन न करें

हेल्दी लाइफ जीने और पेट दर्द से बचने के लिए शराब का सेवन नहीं करना सबसे बेहतर है। शराब से पेट दर्द की परेशानी बढ़ सकती है। इसीलिए, सावधानी बरतें।  (Ref)



निष्कर्ष (Conclusion)

पेट दर्द भले ही एक सामान्य तकलीफ है लेकिन इसे नजरअंदाज करना व्यक्ति को बहुत भारी पड़ सकता है। बात डॉक्टर तक न पहुँच जाये, इसके लिए उपर बताये गये टिप्स को अपना लेना सबसे बेहतर विकल्प है।


Reference


1. DDS, 2008. Abdominal Pain Available at


2. JCMG, 2023.  Abdominal Pain Available at


3. ada, 2022. Abdominal Pain - Symptoms,Treatment & Prevention Available at


FAQ

  पेट दर्द के गंभीर कारण क्या हैं?  
   

हर्निया, अल्सर, रिफ्लक्स डिजीज, अपेंडिसाइटिस, किडनी स्टोन, यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन व अन्य कई बीमारियों के कारण पेट में दर्द हो सकता है। महिलाओं में ओवेरियन कैंसर, एडिनोमायोसिस, ओवेरियन सिस्ट या फिर एक्टोपिक प्रेगनेंसी होने पर ये तकलीफ पैदा हो सकती है।

 
  पेट दर्द से बचने के लिए खानपान का कैसे रखें ख्याल?  
   

पेट दर्द से बचाव के लिए हमेशा समय पर खाना खाएं और हमेशा छोटी-छोटी मील लेने की कोशिश करें। फाइबर युक्त भोजन ज्यादा मात्रा में लें जैसे- फल, हरी सब्जियां, होल ग्रेन्स ब्रेड्स आदि। अतिरिक्त शुगर, फैट व नमक के सेवन से बचें।

 

No comments

Note: Only a member of this blog may post a comment.

Powered by Blogger.